logo In the service of God and humanity
Stay Connected
Follow Pujya Swamiji online to find out about His latest satsangs, travels, news, messages and more.
H.H. Pujya Swami Chidanand Saraswatiji | | Admin
1
archive,paged,author,author-7nagpw6rmc25nkzh,author-1,paged-36,author-paged-36,edgt-core-1.0.1,ajax_fade,page_not_loaded,,hudson-ver-2.0, vertical_menu_with_scroll,smooth_scroll,side_menu_slide_from_right,blog_installed,wpb-js-composer js-comp-ver-7.5,vc_responsive

Author:Admin

Apr 17 2023

Ganga Samagra Organized at Parmarth to Keep Mother Ganga Clean

The "Ganga Samagra" event was graced by the divine and esteemed presence of Hon'ble CM of Uttarakhand Shri Pushkar Singh Dhami, Ramashish, Ashish Gautam, Niranjan & Renu. It was organised by Parmarth Niketan with the blessings of Pujya Swamiji, uniting Ganga lovers with intent to keep Mother Ganga and her tributaries clean & green. परमार्थ निकेतन में गंगा समग्र का उद्घाटन माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखंड श्री पुष्कर सिंह धामी जी, परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी, संघ के वरिष्ठ प्रचारक और गंगा समग्र के समन्वय राष्ट्रीय संगठन मंत्री श्री रामाशीष जी,...

Share Post
Apr 17 2023

Monday Mantra

ब्रह्मा मुरारी त्रिपुरांतकारी भानु: शशि भूमि सुतो बुधश्च। गुरुश्च शुक्र शनि राहु केतव सर्वे ग्रहा शांति करा भवंतु।। ग्रहों में प्रथम विश्व की रक्षा करने वाले भगवान सूर्य, अमृतमय स्वरूप वाले चंद्रदेव, जगत् की वृष्टि का हरण करने वाले मंगल, महान द्युति से संपन्न, चन्द्रमा के पुत्र बुध, देवताओं के गुरू बृहस्पति, दैत्यों के गुरू महान् बुद्धि संपन्न शुक्र, भगवान् शिव के प्रिय प्रसन्नात्मा शनि देव, तमोमय राहु, और बिना शरीर वाले केतु समस्त लोकों की पीड़ा का निवारण करें । The gods Brahma, Murari and Tripurantkari (the one who destroyed the...

Share Post
Apr 15 2023

Pujya Swamiji Graces Grand Shri Ram Katha in Gurugram

परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने गुरूग्राम में आयोजित दिव्य और भव्य श्री रामकथा में सहभाग कर संदेश दिया कि हमारा जीवन संस्कृति और संस्कारों को समर्पित हो। हमारे देश का सौभाग्य है कि हमारे राष्ट्र के तपस्वी महापुरूषों ने भारत की संस्कृति और संस्कारों को सम्भाल कर रखा है। उन्होंने कहा कि हमारे शास्त्र और भारतीय संस्कृति जिनका गुणगान करती है ऐसे हमारे प्रभु श्री राम हैं, भगवान श्री राम जी के चरण, शरण और आचरण हमारे जीवन का पाथेय बनंे। श्री राम कथा भारतीय संस्कृति का...

Share Post
Apr 14 2023

Pujya Swamiji and Pujya Sadhviji Grace Global Peace Leadership Conference Indo-Pacific (GPLC-2023)

परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी और जीवा की अंतर्राष्ट्रीय महासचिव साध्वी भगवती सरस्वती जी ने ’’वैश्विक शान्ति नेतृत्व सम्मेलन इन्डो-पैसिफिक’’ में सहभाग कर सम्बोधित किया। भारत की समृद्ध और उत्कृष्ट आध्यात्मिक विरासत ने मानव सभ्यता को गहराई से प्रभावित किया है। भारतीय संस्कार, संस्कृति और शास्त्र हमारा दिव्य खजाना हैं, क्योंकि इसमें वसुधैव कुटुम्बकम् जैसे दिव्य मंत्र समाहित है। भारत की अद्वितीय विरासत में सार्वभौमिक शान्ति के सिद्धान्त समाहित हैं उन दिव्य सूत्रों और सिद्धान्तों के आधार पर वैश्विक शान्ति और समृद्धि सम्भव है। स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने...

Share Post
Apr 14 2023

Along with being online, it is also important to be aligned

पूज्य स्वामीजी ने दिया संदेश ‘‘ऑनलाइन होने के साथ एलाइन होना भी जरूरी हैं’’। साधना सबसे श्रेष्ठ माध्यम है मन और मस्तिष्क को एलाइन करने का; साधना आत्मोन्नति का साधन है। साधना के माध्यम से श्रेष्ठ कर्मो का निर्माण होता है और श्रेष्ठ कर्मों से स्वस्थ और समृद्ध भविष्य सुनिश्चित किया जा सकता है। Pujya Swamiji gives profound wisdom for navigating our modern world, sharing that along with being online, it is also important to be aligned. It is through sadhana, (spiritual practice) that we can best align mind and brain -...

Share Post
Apr 13 2023

Pujya Swamiji Meets with Hon’ble Minister of State for Environment, Forest and Climate Change

Pujya Swamiji and Honourable Minister of State for Environment, Forest and Climate Change, Shri Ashwini Kumar Choubey met in Delhi. On this occasion, Pujya Swami ji said that the animals living in the forest such as elephants, monkeys etc. are coming out of the forests due to shortage of water and food, creating conflict between humans and animals. Thus, the Amrit Sarovar planis being planned by Parmarth Niketan to create natural ponds and replenish the watershed, as well as planting of livelihood-sustaining, fruit-giving, sacred trees in Rajaji National Park, along...

Share Post
Apr 13 2023

Happy Baisakhi!

May the festival of harvest bring love and happiness to your life. May God bless you with wealth, growth, health, happiness, peace, wisdom and strength. अन्नदाता की खुशहाली और समृद्धि के पर्व, बैसाखी व मेष संक्रांति पर आप सभी को ढेर सारी शुभकामनाएं और आशीर्वाद। फसलों का त्योहार आपके जीवन में प्यार, शांति, समृद्धि, ज्ञान और शक्ति प्रदान करे As we mark the start of the new year, let us immerse ourselves in the spiritual atmosphere of renewal and regeneration. May this be a time for us to deepen our faith, strengthen...

Share Post
Apr 11 2023

Pujya Swamiji Graces National Climate Conference 2023

Pujya Swamiji joined online to address the National Climate Conclave 2023 in Lucknow, Uttar Pradesh, from the 10-11th April. Inaugurated by the Hon'ble Chief Minister of UP Mahant Shri Yogi Adityanathji and Hon'ble Union Minister of Environment and Forest Shri Bhupendra Yadavji on Stakeholders Role in Climate Action yesterday during an inspiring panel. राष्ट्रीय जलवायु सम्मेलन 2023 National Climate Conclave 2023 स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने लखनऊ, उत्तर प्रदेश में आयोजित राष्ट्रीय जलवायु सम्मेलन 2023 में वर्चुअल रूप से किया सहभाग वैश्विक स्तर के पर्यावरणविद् और विख्यात प्रतिनिधियों ने मिलकर बेहतर कल के लिए किया नीतियों का...

Share Post
Apr 08 2023

Mantra of oneness & togetherness

पूज्य स्वामी जी कहते है कि हमे ये स्वयं निश्चय करना है की हमें क्या चाहिए क्योंकि जो भी हम करते हैं वही वापस लौट के आता है इसलिए अच्छा सोचिए, अच्छा बोलिए और अच्छे कार्य कीजिए। पूज्य स्वामीजी कहते है कि अपने अहम को उस परमात्मा में मिला देना और अपना सर्वस्व उसको समर्पित करना ही आध्यात्म है और यही जीवन है। पूज्य स्वामीजी कहते है कि हमें आने वाले समय को सुरक्षित रखने के लिए अपने पेड़ों को बचाना है, जल को बचाना है, सिंगल यूज प्लास्टिक को बंद...

Share Post
Apr 07 2023

Pujya Swamiji Graces Release of Commemorative Postage Stamp on 200th Birth Anniversary of Pujya Swami Dayanand Saraswatiji by Hon’ble Vice President of India

विज्ञान भवन दिल्ल्ी में स्वामी दयानंद सरस्वती जी की 200वीं जयंती पर स्मारक डाक टिकट जारी किया गया। इस पावन अवसर पर भारत के माननीय उपराष्ट्रपति श्री जगदीप धनखड़ जी, माननीय उपराष्ट्रपति की पत्नी डॉ. (श्रीमती) सुदेश धनखड़ जी, पतंजलि योगपीठ से योगगुरू स्वामी रामदेव जी, परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी, सांसद सीकर राजस्थान, स्वामी सुमेधानन्द सरस्वती जी, माननीय संचार राज्य मंत्री, भारत सरकार, श्री देवुसिंह चैहान जी, सांसद डॉ सत्य पाल सिंह जी और अन्य विशिष्ट अतिथियों की पावन उपस्थिति में भारत के माननीय उपराष्ट्रपति द्वारा...

Share Post