logo In the service of God and humanity
Stay Connected
Follow Pujya Swamiji online to find out about His latest satsangs, travels, news, messages and more.
H.H. Pujya Swami Chidanand Saraswatiji | | Admin
1
archive,paged,author,author-7nagpw6rmc25nkzh,author-1,paged-33,author-paged-33,edgt-core-1.0.1,ajax_fade,page_not_loaded,,hudson-ver-2.0, vertical_menu_with_scroll,smooth_scroll,side_menu_slide_from_right,blog_installed,wpb-js-composer js-comp-ver-7.5,vc_responsive

Author:Admin

May 24 2023

G-20 Meeting in Rishikesh Begins with Parmarth’s Ganga Aarti & Pledge to Work Together

Parmarth Niketan, one of the largest ashrams in Rishikesh and one of the largest spiritual institutions in India hosted the esteemed delegates of the G-20 meeting of the Anti-Corruption Working Group for a special Ganga Aarti ceremony and dinner tonight. This momentous gathering witnessed the participation of 200 delegates from all 20 of the G-20 countries as well as representatives from across the nation and the world. The event at Parmarth Niketan was the opening to the delegates’ three  days of meetings in Uttarakhand.  They had the special opportunity to...

Share Post
May 22 2023

“Govind Jay Jay” Bhajan

पूज्य स्वामी चिदानंद सरस्वतीजी - मुनिजी के श्रीमुख से मंत्रमुग्ध कर देने वाला दिव्य संगीत “गोविंद जय जय गोपाल जय जय, राधारमण हरि गोविंद जय जय ” का आनन्द लिजिये। गोविंद जय जय भजन एक भक्ति गीत है जो भगवान कृष्ण की महिमा करता है। भक्त भजन के माध्यम से परमात्मा के प्रति अपनी भक्ति, प्रेम और भावनाओं को व्यक्त करते हैं Govind Jay Jay Bhajan is a devotional song that glorifies Lord Krishna. "Govind" is a name for Lord Krishna, derived from the Sanskrit words "go" meaning cow and...

Share Post
May 22 2023

International Day for Biodiversity

परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने आज जैव विविधता हेतु अन्तर्राट्रीय दिवस के अवसर पर पर्यावरण और प्रकृति को समर्पित मासिक श्री राम कथा के दिव्य मंच से संदेश दिया कि जैविक संपदा ही जीवन संपदा है। वैश्विक संतुलन को बनाए रखने के लिए जैव विविधता महत्वपूर्ण है। निदेशक राजाजी टाइगर रिजर्व और संरक्षक गंगोत्री राष्ट्रीय उद्यान और गोविंद वन्यजीव अभयारण्य श्री साकेत बडोला जी ने सपरिवार परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी से भेंट कर आशीर्वाद लिया। स्वामी जी ने जैव विविधता, अमृत सरोवर और...

Share Post
May 20 2023

Connect with Your Roots

Pujya Swamiji beautifully shares that staying connected to our values and culture allows us to pass on this rich legacy to future generations. It helps in fostering a sense of community, mutual respect, and understanding among individuals. By embracing our roots, we not only preserve our own cultural heritage but also contribute to the diversity and richness of the global tapestry of humanity....

Share Post
May 19 2023

The Concept of God

Pujya Swami ji is beautifully explaining the Hindu culture by describing the concept of God as Brahma, Vishnu, and Shiva (also known as Mahesh). In Hinduism, Brahma, Vishnu, and Mahesh are considered the Trimurti—the three primary aspects or forms of God. Each deity represents a distinct role and function within the cosmic order. Brahma is regarded as the creator of the universe. He is associated with knowledge, wisdom, and creativity. Brahma is depicted with four faces, symbolizing the four Vedas, and is often shown seated on a lotus emerging from Lord Vishnu's...

Share Post
May 17 2023

Shravan, Manan, and Nididhyasana

पूज्य स्वामीजी ने दिव्य श्री राम कथा के पावन अवसर पर संदेश दिया कि माँ गंगा के पावन तट पर प्रति वर्ष श्रीराम कथा का अनुष्ठान होता है। इस अनुष्ठान के माध्यम से अपने जीवन में दिव्यता और पवित्रता को आत्मासात करें। हम स्वयं तन, मन और धन से समर्पित होकर बैठे तथा कथा का श्रवण, मनन और निदिध्यासन करें। श्रवण अर्थात् श्री राम कथा को ध्यान से सुनना तथा कथा के अंतर्निहित संदेशों को समझना और उन्हें अपने जीवन में उतारने का प्रयास करना। मनन अर्थात श्री राम कथा के महत्वपूर्ण...

Share Post
May 17 2023

Pujya Swamiji Graces Opening Ceremony of Shri Hemkund Sahib Yatra

परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने श्री हेमकुंड साहिब यात्रा उद्घाटन समारोह में सहभाग किया। हेमकुंड साहिब गुरूद्वारा भारत में सिख समुदाय के लिए एक महत्वपूर्ण पवित्र तीर्थस्थल है। हेमकुंड साहिब यात्रा में प्रतिवर्ष हजारों श्रद्धालु श्रद्धापूर्वक इस मनोरम तीर्थ स्थल पर जाते हैं। यह तीर्थस्थल दसवें सिख गुरु, श्री गुरु गोबिंद सिंह जी को समर्पित है। माना जाता है कि इस स्थान पर गुरू गोविन्द सिंह जी ने ध्यान किया था वहीं पर आज हेमकुंड साहिब गुरूद्वारा स्थित है। स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने हेमकुण्ड साहिब यात्रा के...

Share Post
May 16 2023

International Day of Families

पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज ने विश्व परिवार दिवस के अवसर पर विविधता में एकता का संदेश देते हुये कहा कि शिवपरिवार विविधता में एकता का उत्कृष्ट उदाहरण है। शिव परिवार दर्शाता है कि भगवान शिव के गले में सर्प, गणेश जी का वाहन चूहा और कार्तिकेय जी का वाहन मोर है। वास्तव में सर्प, चूहे का भक्षण करता है और मोर, सर्प का परन्तु परस्पर विरोधी स्वभाव होते हुये भी शिव परिवार में अद्भुत प्रेम के दर्शन होते हैं। विचारों, प्रवृतियों और अभिरूचियों में विभिन्नता और विषमताओं के...

Share Post
May 14 2023

Musical Monday – Radhe Radhe

कीर्तन करने से मन शुद्ध होता है और आत्मा को शांति मिलती है। कीर्तन आत्मिक उन्नति के लिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि इससे हम अपनी भावनाओं और भक्ति को व्यक्त करते हैं। परम पूज्य स्वामी चिदानंद सरस्वतीजी - मुनिजी की मंत्रमुग्ध कर देने वाली दिव्य ध्वनि में सुने “राधे - राधे”...

Share Post
May 14 2023

Mother’s Day Blessings

Pujya Swamiji's words beautifully capture the essence of the divine presence of a mother in our lives. The concept of Brahma, Vishnu, and Mahesh (representing the Creator, Preserver, and Destroyer aspects of God in Hindu mythology) finding expression in one place as a mother is a profound way to acknowledge the immense love, care, and nurturing that a mother provides. While it is true that we celebrate a specific day dedicated to mothers, it is important to recognize and honor the significance of motherhood every day. Mothers play a vital role...

Share Post